तीरंदाजी में किया कमाल मिला अर्जुन अवॉर्ड नाम शीतल देवी जो कश्‍मीर की रहने वाली है जो बिना हाथ ही तीरंदाजी में किया कमाल

कश्‍मीर के छोटे से गांव की रहने वाली शीतल देवी के साथ राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने खेल जगत की हस्तियों को सम्‍मानित किया। जिसमें शीतल देवी को अर्जुन अवॉर्ड दिया गया ।

शीतल देवी पहली एसी भारतीय तीरंदाज है, जिन्‍होनें बिना हाथों के तीरंदाजी की है। वह पैरों से ही तीरंदाजी करती है।

बीमारी फोकोमोलिया

शीतल देवी फोकोमेलिया बीमारी से पीडित है। यह जम्‍मूकश्‍मीर के किश्‍तवाड जिले के लोई धार गांव में हुआ था। शीतल बचपन से ही फोकोमेलिया बीमारी से पीडित है। इस बिमारी में शरीर का विकास पूरी तरह से नहीं हो पाता है। इस कारण शीतल का जीवन काफी संघर्षपूर्ण रहा है । शीतल के पिता पेशे से एक किसान है और उसकी माँँ घर संभालती हैं।

Leave a comment